कार्य ऊर्जा प्रमेय

किसी पिंड पर आरोपित परिणामी बल द्वारा किया गया कार्य (Work ) उस पिंड की गतिज ऊर्जा ( Kinetic energy ) में परिवर्तन के तुल्य होता है।

Kf – Ki = W

जहां Ki तथा Kf पिंड की आरंभिक एवं अंतिम गतिज ऊर्जा है।

इसे कार्य ऊर्जा प्रमेय ( Work energy theorem ) कहते है।

कार्य ऊर्जा प्रमेय ( Work energy theorem ) के अनुसार कार्य एवं गतिज ऊर्जा तुल्य राशियां है। कार्य ऊर्जा प्रमेय ( Work energy theorem ) न्यूटन के द्वितीय नियम ( Newton’s second law of motion ) का समाकल रुप है।