कीटभक्षी पादप

वे पादप जो अपना भोजन कीटों से प्राप्त करते है कीटभक्षी पौधे कहलाते है। इन्हें मांसाहारी पादप भी कहते है। इन पादपों की रचना इस प्रकार होती है कि कीट इनमें फंस जाते है। इन पौधों में विशेष प्रकार के पाचक रस होते है जो इन कीटों को पचा डालते है। ये पादप दलदली क्षेत्र में पाए जाते है। इन क्षेत्रों में नाइट्रोजन की पूर्ति अपर्याप्त होती है। नाइट्रोजन की कमी को पूरा करने के लिए ये पौधे कीटों का भक्षण करते है।

कीटभक्षी पादप के उदाहरण

ब्लैडरवर्ट ( यूट्रीकुलेरिया ), घटपर्णी पादप ( पिचर प्लांट ), वीनस फ्लाइ ट्रैप, ड्रोसेरा, सरसैनिया, नेपेंथिस, डायोनिया आदि कीटभक्षी पादपों के उदाहरण है।