प्लांक का विकिरण नियम

किसी कृष्णिका से `lambda` तथा `lambda + d lambda` तरंगदैर्ध्य परास में उत्सर्जित विकिरणों का ऊर्जा घनत्व निम्न समीकरण के अनुसार होता है-

`u_nu dnu = (8pihnu^3) /c^3 (dnu)/[exp( (hnu)/(kT) ) – 1]`

इस समीकरण को प्लांक का विकिरण नियम कहते है।