शुक्र ( ग्रह )

यह पृथ्वी के सबसे नजदीकी ग्रह है जो पृथ्वी से 40 लाख किलोमीटर दूर है। यह अत्यंत गर्म ग्रह है जिस का तापक्रम 480 डिग्री सेल्सियस है। इसकी सतह चट्टानों व ज्वालामुखी से भरी पड़ी है। आकार व द्रव्यमान में पृथ्वी के लगभग समान होने के कारण इससे पृथ्वी की बहिन भी कहते हैं।

शुक्र ग्रह को बादलों से घिरा ग्रह कहते है। इसके चारों ओर सल्फ्यूरिक अम्ल के बादलों का घेरा है। इसमें कुछ मात्रा में हाइड्रोक्लोरिक अम्ल भी उपस्थित होता है।
इसके वायुमंडल में 96% कार्बन डाइऑक्साइड, 3.5% नाइट्रोजन और 0.5% जलवाष्प, सल्फ्यूरिक अम्ल, हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, आर्गन इत्यादि
इसके वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्साइड की अधिकता के कारण यह अत्यधिक गर्म ग्रह है।

यह सबसे चमकीला ग्रह है जिसके कारण इसे भोर का तारा व सांझ का तारा कहते हैं। शुक्र वास्तव में एक ग्रह है न कि तारा।
शुक्र ग्रह को भोर का तारा कहते है। शुक्र ग्रह को हम सूर्योदय से लगभग 3 घंटे पहले देख सकते है यदि वे प्रातः कालीन ग्रह हो।

शुक्र ग्रह को सांझ का तारा कहते है। शुक्र वास्तव में एक ग्रह है न कि तारा। शुक्र ग्रह को हम सूर्योस्त के लगभग 3 घंटे पश्चात देख सकते है यदि वो सांय कालीन ग्रह हो।